Joystick क्या है? कार्य, प्रकार उपयोग

नमस्कार दोस्तों! आज हम एक रोचक और महत्वपूर्ण विषय पर चर्चा करेंगे – “Joystick” क्या आपने कभी सोचा है कि इसका उपयोग क्या होता है और यह कैसे काम करता है? इस ब्लॉग पोस्ट में, हम जानेंगे कि joystick क्या होता है, इसके प्रकार, कार्य, और उपयोग क्या है।

जॉयस्टिक की परिभाषा | Joystick definition in hindi

जॉयस्टिक (Joystick) एक छोटा हैंडहेल्ड इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जिसका प्राथमिक उद्देश्य उपयोगकर्ता को कंप्यूटर, गेम कंसोल या अन्य इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस के साथ विभिन्न कार्यों को नियंत्रित करने में मदद करना है।

जॉयस्टिक (Joystick) एक छोटा प्लास्टिक या धातु का बॉक्स होता है जिसमें बटन, लीवर और डायल की एक श्रृंखला होती है जिसे उपयोगकर्ता अपनी उंगलियों और हाथों से नियंत्रित करता है। जब आप इन बटनों और लीवरों को एक विशिष्ट दिशा में घुमाते हैं, तो जॉयस्टिक कंप्यूटर या डिवाइस को इस सिग्नल का पता लगाने और प्रोग्राम को नियंत्रित करने में मदद करता है।

जॉयस्टिक डिज़ाइन में एक सर्कल शामिल है जिसमें कुछ मॉडल गति और दिशा को नियंत्रित करने के लिए उपयोग किए जाते हैं, जबकि अन्य मॉडलों में दो या तीन डायल और जॉयपैड होते हैं जो विभिन्न कार्यों को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

जॉयस्टिक का चित्र | joystick images

picture of joystick
जॉयस्टिक छवि

जॉयस्टिक क्या है? |What is joystick?

आइये शुरू करते हैं, जॉयस्टिक (Joystick) क्या है? यह एक छोटा उपकरण है जिसका प्राथमिक उद्देश्य किसी उपकरण को नियंत्रित करना है। यह एक इनपुट डिवाइस के रूप में काम करता है और उपयोगकर्ता को विभिन्न दिशाओं में नेविगेट करने में मदद करता है।

इसका कार्य बहुत सरल है ठीक वैसे ही जैसे आप वीडियो गेम खेलने या अपने कंप्यूटर को नेविगेट करने के लिए गेमिंग कंसोल का उपयोग करते हैं।

जॉयस्टिक (Joystick) के साथ, आप अपने उपकरण को ऊपर, नीचे, बाएँ या दाएँ घुमाकर बदल सकते हैं। यह आपके द्वारा दिए गए इनपुट के अनुसार काम करता है और डिवाइस को सीधा घुमाकर या घुमाकर नियंत्रित करने में आपकी मदद करता है।

संक्षेप में, जॉयस्टिक (Joystick) एक छोटा उपकरण है जो हमें अपने उपकरणों को नियंत्रित करने में मदद करता है और हमारी दैनिक दिनचर्या को आसान और अधिक रोमांचक बनाता है। इसका उपयोग गेमिंग से लेकर फ्लाइट सिमुलेटर तक कई जगहों पर किया जाता है और यह हमें इसे अपने तरीके से जोड़ने की आजादी देता है।

जॉयस्टिक्स का इतिहास | History of Joysticks 

जॉयस्टिक का इतिहास दिलचस्प है और इसे समझने से हमें यह समझने में मदद मिलती है कि यह उपकरण हमारी दैनिक दिनचर्या में कैसे आया।

प्रारंभिक जीवन:

जॉयस्टिक (Joystick) का उल्लेख सबसे पहले आर्केडियन खेलों में किया गया था, जो 1970 के दशक में लोकप्रिय थे। इस समय के दौरान, जॉयस्टिक का उपयोग वीडियो गेम को नियंत्रित करने के लिए प्राथमिक उपकरण के रूप में किया गया था।

जॉयस्टिक का परिचय:

1980 के दशक में, जैसे-जैसे गेमिंग अधिक लोकप्रिय हुई, जॉयस्टिक (Joystick) का डिज़ाइन भी बेहतर होता गया। इसे बनाना और उपयोग करना सुविधाजनक हो गया और यह अधिकांश PlayStation और Xbox के साथ आया।

आधुनिक जॉयस्टिक:

आजकल जॉयस्टिक का डिजाइन और प्रोग्रामिंग बेहद आधुनिक हो गया है। यह अब कंप्यूटर गेम, कंसोल और अन्य उपकरणों को नियंत्रित करने के साथ-साथ हमारे फोन और टैबलेट में भी मौजूद है।

इसका इतिहास बताता है कि जॉयस्टिक (Joystick) एक दिलचस्प उपकरण है जिसका संपर्क हमारी तकनीकी दुनिया के साथ-साथ बढ़ा है। यह वीडियो गेम से लेकर डिजाइनिंग और एविएशन तक हर चीज में हमारी मदद करता है और आने वाले दिनों में भी यह हमारी तकनीकी उत्कृष्टता का हिस्सा बना रहेगा।

जॉयस्टिक के कार्य | Joystick Functions in hindi

आइए अब देखते हैं कि जॉयस्टिक (Joystick) का क्या कार्य है और यह हमारे उपकरणों को कैसे नियंत्रित करता है।

जॉयस्टिक (Joystick) का मुख्य कार्य डिवाइस को नियंत्रित करना है। यह एक प्रकार का पुल है जो हमारे और हमारे उपकरणों के बीच संचार स्थापित करता है।

जॉयस्टिक (Joystick) में एक छोटा सा पल्स होता है, जिसे हम अपनी उंगलियों से दबाते हैं। जब हम इस पल्स को एक दिशा या दूसरी दिशा में घुमाते हैं, तो जॉयस्टिक डिवाइस को बताता है कि हम वही काम करना चाहते हैं।

आपके द्वारा की गई इस गतिविधि के आधार पर, जॉयस्टिक (Joystick) डिवाइस आपके डिवाइस को आपके द्वारा चुनी गई दिशा में ले जाता है। यह बहुत सूक्ष्म और त्वरित है, जिससे आप अपने डिवाइस को सहज और सटीक तरीके से नियंत्रित कर सकते हैं।

इस प्रकार, जॉयस्टिक (Joystick) वास्तव में एक बहुत ही महत्वपूर्ण उपकरण है जिसका उपयोग हम अपनी दैनिक दिनचर्या में अनिवार्य रूप से करते हैं, और इसके बिना, हमारे उपकरण को नियंत्रित नहीं किया जा सकता है।

जॉयस्टिक के प्रकार | What are the types of joystick?

जॉयस्टिक (Joystick) के कई प्रकार होते हैं, और इनमें विभिन्न डिज़ाइन और कार्यक्षेत्र के आधार पर अंतर होता है। इसे अधिक समझने के लिए चलिए इन प्रकारों को विस्तार से देखें:

1.डिजिटल जॉयस्टिक (Digital Joystick)

2.एनालॉग जॉयस्टिक (Analog Joystick)

3.वायरलेस जॉयस्टिक (Wireless Joystick)

4.फ्लाइट सिम्युलेटर जॉयस्टिक (Flight Simulator Joystick)

1.डिजिटल जॉयस्टिक

डिजिटल जॉयस्टिक का डिज़ाइन सरल होता है और इसमें केवल चार मुख्य दिशाएँ होती हैं (ऊपर, नीचे, बाएँ और दाएँ)। यह बिल्कुल नकारात्मक है – इसमें केवल दो चरण हैं (जैसे आपका कीबोर्ड)

डिजिटल जॉयस्टिक आपको अपने डिवाइस को केवल चार दिशाओं में ले जाने की अनुमति देता है, जो अधिकांश कार्यों के लिए बहुत बुनियादी है। जब हम किसी खिलाड़ी को दौड़ाने, कूदने या गोल करने का प्रयास करते हैं तो यह हमें वीडियो गेम में बहुत अच्छा नियंत्रण देता है।

2.एनालॉग जॉयस्टिक

सबसे प्रसिद्ध और आमतौर पर इस्तेमाल की जाने वाली विधि एनालॉग जॉयस्टिक है, खासकर वीडियो गेमिंग में। यह जॉयस्टिक एक छोटी चरखी या छड़ी के रूप में होती है, जिसे हम अपनी उंगलियों से नियंत्रित करते हैं।

दिशा और गति के नियंत्रण के लिए:

एनालॉग जॉयस्टिक (Joystick) एक प्रकार का जॉयस्टिक है जिसका उपयोग दिशा और गति को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है। इस जॉयस्टिक का उपयोग विभिन्न गेम, सिमुलेटर और अन्य अनुप्रयोगों में किया जाता है जिसमें आपको वाहनों की गति को समझने और नियंत्रित करने की आवश्यकता होती है।

एक एनालॉग जॉयस्टिक के साथ, आपके पास दो तैयार किए गए उपकरण होते हैं – एक जो दिशा को नियंत्रित करता है और एक जो गति को नियंत्रित करता है। आप अपने चरित्र, वाहन, या अन्य वस्तुओं को स्थानांतरित करने के लिए इन उपकरणों का संयोजन में उपयोग करते हैं।

उदाहरण के लिए, किसी गेम में, आप एनालॉग जॉयस्टिक का उपयोग करके अपने चरित्र की गति को नियंत्रित कर सकते हैं – आप इसे आगे, पीछे, बाएँ और दाएँ जाने के लिए बढ़ा या धीमा कर सकते हैं। इसके अलावा, आप जॉयस्टिक को अच्छी तरह पकड़कर वाहनों की गति को नियंत्रित करने के लिए भी उपयोग कर सकते हैं, जैसे वीडियो गेम में कार को स्टीयरिंग करना।

गति और दिशा के अनुभवों को अधिक नियंत्रित और यथार्थवादी बनाने के लिए एनालॉग जॉयस्टिक वीडियो गेम खिलाड़ियों, सिमुलेशन फ्लाइट पायलटों और अन्य लोगों के लिए एक महत्वपूर्ण उपकरण है।

फ्लाइट सिम्युलेटर और रेसिंग गेम्स में उपयोग:

एनालॉग जॉयस्टिक वीडियो गेम खेलने का एक बहुत ही महत्वपूर्ण और मजेदार हिस्सा है, खासकर फ्लाइट सिमुलेटर और रेसिंग गेम में। यह जॉयस्टिक सहज ज्ञान युक्त नियंत्रण प्रदान करता है जो इन खेलों को अधिक यथार्थवादी बनाता है और खिलाड़ियों को एक अनुभवी पायलट या ड्राइवर की भूमिका में डूबने में मदद करता है।

उड़ान सिमुलेटर के मामले में, एनालॉग जॉयस्टिक आपको विमान की उड़ान की गति, ऊंचाई और दिशा को पूरी तरह से नियंत्रित करने में मदद करता है। यह खिलाड़ियों को विभिन्न प्रकार के विमानों, जैसे हेलीकॉप्टर, हेलीकॉप्टर और जेट विमानों को चलाने का अनुभव करने की अनुमति देता है। आप उड़ान के सभी पहलुओं को स्वचालित रूप से संकेत देने के लिए जॉयस्टिक का उपयोग कर सकते हैं, जिससे एक हाथ में कई नियंत्रण हो सकते हैं।

इसके अलावा, रेसिंग गेम्स में यह खिलाड़ियों को वाहन की गति, स्टीयरिंग और अच्छी तरह से मोड़ने के तरीके को नियंत्रित करने के लिए संकेत देने में मदद करता है। यह आपको सड़क पर अपनी कार को अच्छी तरह से नियंत्रित करने की अनुमति देता है और बिना किसी खतरे के एक व्यापक रेसिंग अनुभव प्रदान करता है।

एनालॉग जॉयस्टिक का उपयोग करने से हमें अपने गेम में अपने चरित्र को आसानी से नियंत्रित करने में मदद मिलती है। यह आपके चरित्र की गति और दिशा को बहुत ही आदिम और साहसिक बनाता है, जिससे गेम का अनुभव मजेदार और नियंत्रित हो जाता है।

3.वायरलेस जॉयस्टिक

वायरलेस जॉयस्टिक एक ऐसा जॉयस्टिक (Joystick) है जिसमें कोई तार या केबल नहीं होता है, यानी यह बिना तार के काम करता है। यह जॉयस्टिक वायरलेस तकनीक का उपयोग करके आपके डिवाइस और कंप्यूटर के साथ काम करता है।

वायरलेस जॉयस्टिक के लाभ:

स्वतंत्रता: इसमें आपको जॉयस्टिक (Joystick) को किसी भी प्रकार के तार या केबल से जोड़ने की आवश्यकता नहीं है, जिससे आपका काम मुफ़्त और सुविधाजनक हो जाता है।

गतिशीलता: वायरलेस जॉयस्टिक आपको किसी भी तार से बाधित हुए बिना, अधिक गति से चलने और नियंत्रित करने की अनुमति देता है।

कनेक्टिविटी: यह वायरलेस जॉयस्टिक को आपके कंप्यूटर, गेमिंग कंसोल या मोबाइल डिवाइस से बिना किसी समस्या के कनेक्ट होने में मदद करता है।

सुरक्षा: वायरलेस जॉयस्टिक आपके कंप्यूटर या गेमिंग डिवाइस को वायरस और मैलवेयर से बचाते हैं, क्योंकि आपके डिवाइस को तार के माध्यम से कनेक्ट करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

गेमिंग के शौकीनों के बीच में प्रसिद्ध:

वायरलेस जॉयस्टिक वीडियो गेमिंग के शौकीनों के बीच एक बहुत प्रसिद्ध उपकरण है, और यह कुछ कारणों से काफी लोकप्रिय हो गया है। इसका मुख्य कारण वायरलेस जॉयस्टिक का आसान और मुफ्त उपयोग है, जो खेलने के अनुभव को बेहद आसान और सुविधाजनक बनाता है।

वायरलेस जॉयस्टिक की सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह तार या केबल के झंझट से मुक्त है। इसका मतलब है कि आप तार की उलझनों या रुकावटों के बारे में चिंता किए बिना, अपने गेम स्टेशन से दूर खेल सकते हैं। यह आपको उस स्थान पर गेमिंग सत्र खेलने की अनुमति देता है जो आपके लिए उपयुक्त है, जैसे कि आपके सोफे पर, बिस्तर पर, या किसी अन्य स्थान पर।

वायरलेस जॉयस्टिक में आमतौर पर बैटरी होती है जो खेलते समय चार्ज हो सकती है और सामान्य बैटरी के साथ कई घंटों तक चल सकती है। इसके अतिरिक्त, इसमें बटन, लीवर और डायल हैं जो गेमिंग अनुभव को और अधिक यथार्थवादी बनाने में आपकी सहायता करते हैं।

विशेष रूप से, इसका उपयोग वीडियो गेम के शौकीनों के बीच प्रसिद्ध है, जो अपने दोस्तों या ऑनलाइन खिलाड़ियों के साथ मल्टीप्लेयर मोड में मोबाइल, कंसोल या कंप्यूटर पर खेलते हैं। इससे उन्हें अपने खिलाड़ियों के साथ अधिक मज़ेदार और प्रतिस्पर्धी खेल खेलने का मौका मिलता है और उन्हें गेमिंग का अधिक आनंद लेने में मदद मिलती है।

4.फ्लाइट सिम्युलेटर जॉयस्टिक

जब हम फ़्लाइट सिमुलेटर खेलते हैं, तो हम वायरलेस जॉयस्टिक के एक अनूठे संस्करण का उपयोग करने का आनंद लेते हैं, जिसे “फ़्लाइट सिम्युलेटर जॉयस्टिक” कहा जाता है। यह जॉयस्टिक विशेष रूप से विमान सिमुलेशन के लिए डिज़ाइन किया गया है और एक विमान को चलाने का अनुकरण करता है।

विशेषताएँ:

अधिक नियंत्रण: उड़ान सिम्युलेटर जॉयस्टिक आपको विमान का अत्यंत सुविधाजनक नियंत्रण प्रदान करता है। इसके साथ, आप विमान की ऊंचाई, गति और दिशा को विस्तार से नियंत्रित कर सकते हैं, जो उड़ान सिम्युलेटर गेम में महत्वपूर्ण है।

वास्तविक एहसास: यह जॉयस्टिक आपको वास्तविक उड़ान का एहसास देता है। इसके बटन, स्लाइडर और पहिये आपको विमान के विभिन्न हिस्सों के साथ एकाकार होने का एहसास कराते हैं जैसे कि आप एक वास्तविक विमान को चला रहे हों।

अनुकूलन: उड़ान सिम्युलेटर जॉयस्टिक के कुछ मॉडल आपको बटनों को अनुकूलित करने की अनुमति देते हैं, जिससे आप अपने पसंदीदा कार्यों तक तुरंत पहुंच सकते हैं।

सटीकता और परिशुद्धता: इन जॉयस्टिक में जोड़े गए जाइरोस्कोप और सेंसर आपको सटीक और सटीक नियंत्रण प्रदान करते हैं, जिससे आपको विमान को सुरक्षित और सटीकता से उड़ाने में मदद मिलती है।

फ़्लाइट सिम्युलेटर जॉयस्टिक वास्तविक पायलटों और विमान सिम्युलेटर प्रेमियों के लिए एक बेहतरीन उपकरण है, जो विमान सिमुलेशन में और भी अधिक मज़ा और उत्साह जोड़ता है। इसका उपयोग करके, आप वास्तविक उड़ान का अनुभव प्राप्त कर सकते हैं और अपने उड़ान सिमुलेशन गेम को और भी यथार्थवादी बना सकते हैं।

जॉयस्टिक के उपयोग | Uses of joystick in hindi

Game controller
Game controller

जॉयस्टिक एक विशेष प्रकार का उपकरण है जिसका उपयोग कई अलग-अलग कार्यों और क्षेत्रों में किया जा सकता है, और यह वास्तव में एक सुपरहीरो की तरह काम करता है। यहां हम जॉयस्टिक के विभिन्न उपयोगों को विस्तार से समझेंगे:

1. गेमिंग:

  • वीडियो गेम: वीडियो गेम में जॉयस्टिक एक महत्वपूर्ण उपकरण है, जो खिलाड़ियों को खेल के दौरान अपने चरित्र को नियंत्रित करने में मदद करता है। किसी भी गेम की गतिशीलता को सटीक रूप से नियंत्रित करने के लिए जॉयस्टिक बहुत महत्वपूर्ण है।
  • फ्लाइट सिमुलेटर: फ्लाइट सिमुलेटर में, जॉयस्टिक का उपयोग विमान के पायलट के रूप में किया जाता है। इससे विमान का अभ्यास और नियंत्रण करने में मदद मिलती है और पायलट की भूमिका को यथार्थवादी तरीके से अनुकरण करने में मदद मिलती है।

2. ग्राफिक्स डिजाइनिंग:

CAD (कंप्यूटर-एडेड डिज़ाइन): जॉयस्टिक का उपयोग CAD सॉफ़्टवेयर में किया जा सकता है, जिससे डिज़ाइनर आसानी से अपने कंप्यूटर पर विभिन्न ग्राफ़िक्स और मॉडल बना सकते हैं। जॉयस्टिक सुविधा उन्हें विभिन्न आकृतियों और डिज़ाइनों को सटीक रूप से संपादित करने में मदद करती है।

3. विमानन उड़ान:

रेडियो नियंत्रित विमान (आरसी विमान): जॉयस्टिक विमान तेजी से लोकप्रिय हो रहे हैं। इनमें विमान को जॉयस्टिक द्वारा संचालित किया जाता है और यह विमान को ऊपर-नीचे, बाएँ-दाएँ और आगे-पीछे की दिशा में नियंत्रित करने में मदद करता है।

जॉयस्टिक के फायदे | Top 5 Advantages of joystick

जॉयस्टिक के कई फायदे हैं, यहाँ कुछ मुख्य फायदे निम्नलिखित हैं

1.बेहतर नियंत्रण: जॉयस्टिक आपको कंप्यूटर या गेम खेलते समय बेहतर नियंत्रण देता है। यह आपको अपने चरित्र, वाहन या विमान को सुरक्षित और सुविधाजनक तरीके से नियंत्रित करने की अनुमति देता है।

2.रियलिस्टिक अनुभव: जॉयस्टिक आपको गेमिंग और फ्लाइट सिमुलेशन में अधिक यथार्थवादी अनुभव देता है। यह आपको ऐसा महसूस कराता है जैसे यह वास्तविक जीवन में हो रहा है।

3.सुरक्षा और सुविधा: जॉयस्टिक वायरलेस भी हो सकते हैं, जिससे आपका काम सुरक्षित और अधिक वायरलेस हो जाता है। डिवाइस के साथ आपको तार और केबल के झंझट से मुक्ति मिल जाती है।

4.अनुकूलन की स्वतंत्रता: कुछ जॉयस्टिक को संशोधित किया जा सकता है ताकि आप अपनी पसंद के अनुसार अपने गेम या एक्शन को नियंत्रित कर सकें।

5.विभिन्न क्षेत्रों में उपयोग: जॉयस्टिक कई अलग-अलग कार्यों में उपयोगी हो सकते हैं, जैसे गेमिंग, ग्राफिक्स डिजाइनिंग और विमानन। यह आपके काम को आसान और मजेदार बनाता है।

जॉयस्टिक के नुकसान | Disadvantages of joystick

जॉयस्टिक के कुछ नुकसान निम्नलिखित हैं –

1.कीमत: जॉयस्टिक की ऊंची कीमत एक बड़ा नुकसान हो सकती है, खासकर जब आप उच्च गुणवत्ता वाले जॉयस्टिक खरीदने जा रहे हों। इसलिए, यह व्यक्तिगत बजट पर आधारित है।

2.सामान्य रखरखाव: जॉयस्टिक बड़े और भारी होते हैं, और उन्हें सफाई और सर्विसिंग जैसे सामान्य रखरखाव की आवश्यकता होती है।

3.प्रौद्योगिकी में प्रगति: जॉयस्टिक के साथ नई तकनीक के आने से, आपको अपने कंप्यूटर या गेमिंग सिस्टम को अद्यतन रखने की आवश्यकता हो सकती है, जो एक अतिरिक्त नुकसान हो सकता है।

4.स्थान की आवश्यकता: वायरलेस जॉयस्टिक का उपयोग करते समय आपको रिसीवर के पास रहना होगा, जिसके परिणामस्वरूप कुछ दूरी हो सकती है।

5.अत्यधिक उपयोग: जॉयस्टिक का अत्यधिक उपयोग, विशेष रूप से लंबे समय तक, कुछ उपयोगकर्ताओं के हाथ या कंप्यूटर के अन्य हिस्सों में तनाव या चिकित्सीय समस्याएं पैदा कर सकता है।

FAQ’s | पूछे जाने वाले प्रश्न

1. जॉयस्टिक क्या है?

जॉयस्टिक एक हैंडहेल्ड इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जिसका उपयोग कंप्यूटर या गेम कंसोल के साथ विभिन्न कार्यों को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है।

2. जॉयस्टिक के कार्य क्या हैं?

जॉयस्टिक का मुख्य कार्य उपयोगकर्ता को वीडियो गेम, सिमुलेटर और अन्य अनुप्रयोगों में अपने चरित्र, वाहन या उड़ान को नियंत्रित करने में मदद करना है।

3. जॉयस्टिक कितने प्रकार के होते हैं?

जॉयस्टिक विभिन्न प्रकार के होते हैं, जैसे वायरलेस जॉयस्टिक, फ्लाइट सिम्युलेटर जॉयस्टिक और सीएडी (कंप्यूटर-एडेड डिज़ाइन)

4. जॉयस्टिक का प्रयोग किस क्षेत्र में किया जाता है?

जॉयस्टिक का उपयोग वीडियो गेमिंग, ग्राफिक्स डिजाइनिंग, विमानन उड़ान और वीडियो सिमुलेशन के क्षेत्र में किया जाता है।

5. क्या जॉयस्टिक वायरलेस हो सकता है?

हां, कुछ जॉयस्टिक वायरलेस हो सकते हैं, जो उपयोगकर्ता को तारों और केबलों की परेशानी से मुक्त करते हैं, और डिवाइस को नियंत्रित करते समय उन्हें अधिक स्वतंत्रता देते हैं।

आपको एक आदर्श मार्ग धारक के तौर पर जॉयस्टिक के बारे में अब पूरा ज्ञान होना चाहिए। इस आरंभिक ब्लॉग पोस्ट में, हमने जॉयस्टिक के महत्वपूर्ण पहलुओं को समझाया है

इसे भी देखे : Secondary Memory क्या है और इसके प्रकार

1 thought on “Joystick क्या है? कार्य, प्रकार उपयोग”

Leave a Comment