HTML टैग्स का उपयोग कैसे करें: पूरी जानकारी

परिचय | Introduction

HTML | हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज

HTML एचटीएमएल का पूरा नाम “हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज” है। यह एक मानकीकृत मार्कअप भाषा है जिसका उपयोग वेब पेज बनाने के लिए किया जाता है। HTML एक वेब पेज की संरचना और लेआउट प्रदान करता है, जिससे टेक्स्ट, चित्र, लिंक और मल्टीमीडिया तत्वों को प्रदर्शित करने के लिए जगह बनती है।

HTML के मुख्य बिंदु | Main points of HTML

  1. मार्कअप लैंग्वेज: एचटीएमएल एक मार्कअप लैंग्वेज है, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज नहीं। यह वेब पेज की संरचना को परिभाषित करने के लिए मार्कअप टैग के एक सेट का उपयोग करता है। ये टैग <टैग> जैसे कोण कोष्ठक में लपेटे जाते हैं, और पृष्ठ पर तत्वों को चिह्नित करने के लिए उपयोग किए जाते हैं।
  2. हाइपरटेक्स्ट: एचटीएमएल में “H” का मतलब हाइपरटेक्स्ट है। हाइपरटेक्स्ट के माध्यम से आप विभिन्न वेब पेजों के बीच लिंक बना सकते हैं। उपयोगकर्ता इन लिंक्स पर क्लिक करके एक पेज से दूसरे पेज पर जा सकते हैं, जिससे वेब लिंक किए गए दस्तावेज़ों का एक नेटवर्क बन सकता है।
  3. संरचना और सामग्री: एचटीएमएल एक वेब पेज की संरचना और सामग्री को परिभाषित करने के लिए जिम्मेदार है। यह शीर्षकों, पैराग्राफों, सूचियों, छवियों, रूपों और अन्य तत्वों को निर्दिष्ट करता है। प्रत्येक HTML टैग एक विशिष्ट उद्देश्य को पूरा करता है और उसके अनुसार सामग्री को प्रारूपित करता है।
  4. क्रॉस-प्लेटफ़ॉर्म अनुकूलता: एचटीएमएल को प्लेटफ़ॉर्म-स्वतंत्र होने के लिए डिज़ाइन किया गया है। इसे विभिन्न उपकरणों और वेब ब्राउज़रों पर देखा जा सकता है, जिससे यह सुनिश्चित होता है कि वेब सामग्री व्यापक दर्शकों तक पहुंचे।
  5. HTML के संस्करण: एचटीएमएल कई वर्षों से विकसित हुआ है, और इसमें HTML4, XHTML, HTML5 और अन्य जैसे विभिन्न संस्करण शामिल हैं। प्रत्येक संस्करण नई सुविधाएँ और सुधार लेकर आया है, जिससे वेब विकास में शक्ति और लचीलापन आया है।

HTML का महत्व | Importance of HTML

एचटीएमएल वेब डिज़ाइन और वेब विकास के लिए एक महत्वपूर्ण भाषा है, और यह कई कारणों से महत्वपूर्ण है:

  • वेब पेज की संरचना: एचटीएमएल वेब पेज की संरचना को परिभाषित करने में मदद करता है। यह आपको बताता है कि पृष्ठ पर कौन से तत्व हैं, जैसे शीर्षक, पैराग्राफ, सूचियाँ, चित्र और अन्य। इसके बिना, किसी पृष्ठ की संरचना और लेआउट को परिभाषित नहीं किया जा सकता है, जिससे विचारहीन और अव्यवस्थित वेब पेज बनते हैं।
  • हाइपरलिंक: एचटीएमएल के बिना वेब पेजों के बीच लिंक नहीं बनाए जा सकते। यह वेबसाइटों को एक-दूसरे से जोड़ता है और उपयोगकर्ताओं को अन्य पृष्ठों पर नेविगेट करने की अनुमति देता है।
  • सामग्री स्वरूपण: एचटीएमएल का उपयोग सामग्री को स्थानीय और सामाजिक रूप से प्रारूपित करने के लिए किया जाता है। यह वेब पेज को समझने और बेहतर दिखने में मदद करने के लिए विभिन्न प्रकार के शीर्षकों, पैराग्राफों, चित्रों, सूचियों और अन्य तत्वों को दिखाने के लिए टैग का उपयोग करता है।
  • क्रॉस-प्लेटफ़ॉर्म अनुकूलता: एचटीएमएल वेब पेज विभिन्न उपकरणों और वेब ब्राउज़र पर देखने के लिए अनुकूल हैं। यह वेब सामग्री को ब्राउज़ करने वाले उपयोगकर्ताओं के लिए अधिक सुलभ बनाता है और वेबसाइट की पहुंच बढ़ाता है।
  • वेब डिज़ाइन और विकास की नींव: एचटीएमएल वेब डिज़ाइन और विकास की नींव है। इसका उपयोग वेब पेजों को सजाने और इंटरैक्टिव बनाने के लिए सीएसएस (स्टाइलिंग) और जावास्क्रिप्ट (इंटरएक्टिविटी) जैसी अन्य तकनीकों के साथ किया जाता है।
  • वेब प्रयोज्यता: एचटीएमएल वेब सामग्री को किसी अन्य सर्वर-साइड तकनीक के बिना वितरित करने की अनुमति देता है। यह स्पष्ट रूप से न्यूनतम डाउनटाइम और लागत के साथ वेब पेज बनाने में मदद करता है।

संक्षेप में, HTML वेब डिज़ाइन और वेब विकास की नींव है, और यह वेब पेज बनाने और संरचना करने के लिए एक महत्वपूर्ण उपकरण है। यह वेब की पहुंच का विस्तार करता है और इंटरनेट को आज की डिजिटल दुनिया का एक महत्वपूर्ण हिस्सा बनाता है।

HTML का पूरा नाम | HTML Full Form In Hindi

एचटीएमएल का पूर्ण रूप है – हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज

इसमें प्रत्येक शब्द के अलग-अलग अर्थ होते हैं जिन्हें एक-एक करके समझा जाता है –

हाइपरटेक्स्ट – हाइपरटेक्स्ट एक टेक्स्ट होता है जिसमें टेक्स्ट पर एक लिंक होता है। आपने ऐसे कई वेब पेज देखे होंगे जिनमें किसी टेक्स्ट में एक लिंक होता है और उस पर क्लिक करते ही आप दूसरे वेबपेज पर पहुंच जाते हैं। इस टेक्स्ट को ही हाइपरटेक्स्ट कहा जाता है.

HTML की खोज किसने की थी | Who Invented HTML In Hindi

एचटीएमएल का आविष्कार

एचटीएमएल का आविष्कार टिम बर्नर्स-ली नामक एक यूरोपीय भौतिक विज्ञानी और वेब डेवलपर ने किया था। टिम बर्नर्स-ली ने वर्ल्ड वाइड वेब (डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू) के लिए एचटीएमएल विकसित किया, जो आज हमारे इंटरनेट का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है।

HTML का उद्देश्य

एचटीएमएल का मुख्य उद्देश्य वेब पेजों की संरचना को परिभाषित करना था ताकि उन्हें वेब ब्राउज़ करने वाले उपयोगकर्ताओं के सामने आसानी से प्रस्तुत किया जा सके। इसके लिए विभिन्न एचटीएमएल टैग्स का उपयोग किया जाता है, जो पृष्ठ की सामग्री को सटीक रूप से प्रारूपित करते हैं।

HTML के विकास में भूमिका

एचटीएमएल का विकास 1989 में टिम बर्नर्स-ली द्वारा शुरू हुआ, जब उन्होंने एक दस्तावेज़ीकरण प्रणाली की आवश्यकता को पहचाना जो वेब पेज बनाने और साझा करने की प्रक्रिया को सरल बनाएगी।

1990 में, टिम बर्नर्स-ली ने पहली बार एचटीएमएल टैग्स के साथ एक प्रकार का ब्राउज़र और वेब सर्वर एकीकरण बनाया, जिससे उपयोगकर्ताओं को वेब पेज देखने की अनुमति मिली। इससे वर्ल्ड वाइड वेब (डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू) की शुरुआत हुई, जिसने दुनिया भर में इंटरनेट फैलाया।

इस प्रकार,एचटीएमएल का आविष्कार टिम बर्नर्स-ली द्वारा किया गया और इससे वेब का निर्माण हुआ, जिसका परिणाम आज हम इंटरनेट के रूप में देखते हैं। एचटीएमएल वेब डिज़ाइन और विकास की कुंजी है और यह हमें वेब पर सामग्री को सुरुचिपूर्ण और संरचित तरीके से प्रस्तुत करने में मदद करती है।

HTML टैग्स क्या होते हैं?

“टैग खोलना और बंद करना” एचटीएमएल का एक महत्वपूर्ण पहलू है। एचटीएमएल दस्तावेज़ में टैग का उपयोग करने के दो मुख्य पहलू हैं – ओपनिंग टैग और क्लोजिंग टैग। ये टैग वेब पेज की संरचना करते हैं। परिभाषित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायें। आइये इन दोनों पहलुओं को विस्तार से समझते हैं:

  1. शुरुआती टैग (Opening Tags)

  • आरंभिक टैग किसी वेब पेज पर किसी तत्व की शुरुआत का प्रतिनिधित्व करते हैं। प्रारंभ टैग एक टैग के नाम के साथ आता है और कोण कोष्ठक (< और >) में लपेटा जाता है।
  • टैग प्रारंभ करके, हम बता सकते हैं कि किस प्रकार का तत्व प्रारंभ हो रहा है, जैसे पैराग्राफ, शीर्षक, सूची, छवि, या कोई अन्य तत्व।
  • प्रारंभ टैग के बाद आमतौर पर कुछ और विशेष टैग आते हैं जो उस तत्व को और विशेषताएँ प्रदान करते हैं, और उसकी संरचना को परिभाषित करते हैं।
  • उदाहरण: <p> यह एक अनुच्छेद है। </p>
  1. समापन टैग (Closing Tags)

  • टैग का समापन टैग के नाम के साथ होता है, लेकिन शुरुआत में एक स्लैश (/) के साथ, जिससे यह प्रतीत होता है कि टैग बंद हो रहा है।
  • क्लोजिंग टैग के माध्यम से हम यह बता सकते हैं कि जिस एलिमेंट की शुरुआत टैग की गई थी वह बंद हो गया है।
  • उदाहरण: <p> यह एक अनुच्छेद है। </p>
  • इस उदाहरण में, <p> प्रारंभिक टैग है और </p> समापन टैग है, उनके बीच की सामग्री को पैराग्राफ में बदल दिया गया है।

टैग का महत्व:

एचटीएमएल में टैग का उपयोग वेब पेजों की संरचना और लेआउट को परिभाषित करने के लिए किया जाता है। टैग के बिना, वेब पेजों को सही ढंग से प्रस्तुत नहीं किया जा सकता है और उपयोगकर्ता सामग्री की संरचना को नहीं समझ सकते हैं।एचटीएमएल टैग्स को प्रारंभ और समाप्त करना वेब डिज़ाइन का मूल आधार है, और उनका उचित उपयोग करके वेब पेजों को सुंदर, संरचित और उपयोगकर्ता के अनुकूल बनाया जा सकता है।

एचटीएमएल की विशेषताएँ | Top 6 Features of HTML In Hindi

  1. मार्कअप भाषा:- एचटीएमएल एक मार्कअप भाषा है, अर्थात इसका उपयोग किसी दस्तावेज़ की संरचना को परिभाषित करने के लिए किया जाता है। यह एक वेब पेज की संरचना और उसकी सामग्री को कैसे प्रस्तुत किया जाता है, निर्दिष्ट करता है।
  2. हाइपरटेक्स्ट क्वेरी भाषा:-   एचटीएमएल का विकास इसलिए हुआ क्योंकि इसमें लिंक की एक प्रणाली होती है, जिसके माध्यम से आप एक वेब पेज से दूसरे वेब पेज पर जा सकते हैं। इसके बिना, वेब बनाना और उसका उपयोग करना कठिन होता।
  3. प्लेटफार्म-स्वतंत्र:-    एचटीएमएल वेब पेजों को विभिन्न उपकरणों और ब्राउज़रों में संगत बनाता है। यह उपयोगकर्ताओं को किसी भी डिवाइस पर वेब पेज देखने की आज़ादी देता है।
  4. टैग का उपयोग:-    HTML में टैग का उपयोग वेब पेजों की सामग्री को संरचना और प्रारूपित करने के लिए किया जाता है। टैग उपयोगकर्ता को टैग के बीच सामग्री को प्रस्तुत करने का तरीका बताते हैं।
  5. अधिकतर:-    HTML5 जैसे नवाचारों ने HTML को और भी अधिक शक्तिशाली और अधिक सुलभ बना दिया है। इसमें वीडियो, ऑडियो, ग्राफिक्स, अनुशासन, फॉर्म, ग्राफिक्स और कई अन्य तत्व शामिल हैं।
  6. वास्तुकला:-    HTML का आर्किटेक्चर सरल है, जिससे वेब पेज जल्दी लोड हो सकते हैं। इससे यूजर एक्सपीरियंस बेहतर होता है।

एचटीएमएल के प्रकार | Type of HTML In Hindi

HTML के प्रकार के बारे में जानकारी देते हुए आइए इस विषय को विस्तार से समझते हैं:

  1. HTML (हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज):
  • एचटीएमएल (हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज) वह मूल भाषा है जिसमें वेब पेज डिज़ाइन और विकसित किए जाते हैं। इसका उपयोग मूल रूप से टेक्स्ट और मल्टीमीडिया सामग्री को संरचित करने के लिए किया जाता है ताकि उपयोगकर्ता उन्हें वेब ब्राउज़र के माध्यम से देख सकें।
  1. एक्सएचटीएमएल (एक्स्टेंसिबल हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज):
  • XHTML (एक्स्टेंसिबल हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज) एक अद्यतन संस्करण है जो प्रमुख अंतरों के साथ HTML से काफी मिलता जुलता है। इसमें XML (एक्सटेंसिबल मार्कअप लैंग्वेज) का उपयोग किया गया है, जिससे दस्तावेज़ को अधिक संरचित बनाया जा सकता है। XHTML नियमों का अधिक सख्ती से पालन करता है और त्रुटियों को प्रबंधित करने में मदद करता है।
  1. HTML5 (हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज 5):
  • HTML5 (हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज 5) आधुनिक वेब विकास के लिए डिज़ाइन किया गया एक अभिनव संस्करण है। इसमें वीडियो, ऑडियो, ग्राफिक्स, अनुशासन, फॉर्म, ग्राफिक्स और कई अन्य तत्व शामिल हैं। HTML5 ब्राउज़र के साथ संगत है और इसका उपयोग वेब एप्लिकेशन डिज़ाइन करने के लिए किया जाता है।
  1. HTML4 (हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज 4):
  • HTML4 (हाइपरटेक्स्ट मार्कअप लैंग्वेज 4) एक पुराना संस्करण है जिसका उपयोग पुरानी वेब साइटों और एप्लिकेशन के लिए किया जाता है। यह मुख्य रूप से पाठ और इंटरलेस्ड छवियों को प्रस्तुत करने के लिए था और कवरेज में सीमित था।
  1. HTML+, HTML 2.0, HTML 3.0:
  • ये HTML के पुराने संस्करण हैं जिनका उपयोग वेब के शुरुआती दिनों में किया जाता था, लेकिन अब उपयोग में नहीं हैं।
  1. मोबाइल HTML:
  • यह विशेष रूप से मोबाइल उपकरणों पर प्रदर्शित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। मोबाइल वेबसाइट और एप्लिकेशन डिज़ाइन करने के लिए उपयोग किया जाता है।
  1. दस्तावेज़ स्थानांतरण (DTM):
  • इसका उपयोग वेब डॉक्यूमेंट को एक स्थान से दूसरे स्थान पर भेजने के लिए किया जाता है, लेकिन यह वेब पेजों को सीधे प्रदर्शित करने के लिए काम नहीं करता है।

इन विभिन्न प्रकार के HTML का उपयोग वेब विकास के विभिन्न पहलुओं के लिए किया जाता है, और आपको अपने प्रोजेक्ट की आवश्यकताओं और लक्ष्यों के आधार पर सही HTML प्रकार का चयन करना होगा।

एचटीएमएल की बेसिक संरचना | Basic Structure of HTML In Hindi

एचटीएमएल की मूल संरचना एक वेब पेज की मूल संरचना है, जो यह निर्धारित करती है कि वेब पेज की संरचना कैसे की जानी चाहिए और कौन सी सामग्री कहाँ दिखाई जानी चाहिए। HTML संरचना का मूल उद्देश्य वेब पेजों को आकर्षक और इंटरैक्टिव बनाना है ताकि उपयोगकर्ता आसानी से जानकारी प्राप्त कर सकें।

HTML Document की साधारण संरचना

Structure of HTML

आइए HTML की मूल संरचना को विस्तार से समझें

  1. <!DOCTYPE html>:
  • एचटीएमएलदस्तावेज़ की पहली पंक्ति में <!DOCTYPE html> लिखा होता है। यह दस्तावेज़ प्रकार स्थापित करता है और ब्राउज़र को सूचित करता है कि इस दस्तावेज़ को HTML5 मानकों के अनुसार इंटरैक्टिव रूप से प्रस्तुत किया जाना चाहिए।
  1. <html></html>:
  • <html> टैग दस्तावेज़ की शुरुआत और अंत को चिह्नित करता है। सभी HTML कोड <html> टैग के अंतर्गत होते हैं।
  1. <head></head>:
  • <head> टैग में दस्तावेज़ का मेटाडेटा और अन्य महत्वपूर्ण जानकारी होती है। पृष्ठ शीर्षक और अन्य मेटा-डेटा जैसे विवरण, कीवर्ड और अन्य जानकारी यहां <शीर्षक> टैग का उपयोग करके जोड़ी जा सकती है।
  1. <मेटा चारसेट=’यूटीएफ-8′>:
  • यह <meta> टैग दस्तावेज़ की भाषा निर्धारित करता है, जिससे ब्राउज़र समय के साथ उपयोगकर्ता को सही भाषा में सामग्री प्रदान कर पाता है।
  1. <लिंक rel=’स्टाइलशीट’ टाइप=’टेक्स्ट/सीएसएस’ href=’style.css’>:
  • इस <link> टैग के माध्यम से वेब पेज को स्टाइल शीट (CSS) से जोड़ा जा सकता है, जिससे पेज का डिज़ाइन बेहतर और आकर्षक बनता है।
  1. <body></body>:
  • <body> टैग एक वेब पेज की सभी दृश्य सामग्री, जैसे पाठ, चित्र, लिंक, वीडियो और अन्य तत्वों को संलग्न करता है।
  1. पाठ्य सामग्री:
  • <body> टैग में आपके वेब पेज की मुख्य सामग्री शामिल होती है, जैसे पैराग्राफ, शीर्षक, सूचियाँ, चित्र, लिंक और अन्य तत्व।
  1. टिप्पणियाँ:
  • <!– यहां टिप्पणी लिखें –>
  • टिप्पणियों का उपयोग कोड पर टिप्पणी करने के लिए किया जाता है, जिससे वेब डेवलपर्स को कोड समझने में मदद मिलती है।

इस प्रकार, HTML की मूल संरचना उपयोगकर्ताओं को एक स्वच्छ, व्यवस्थित और सुंदर वेब पेज बनाने में मदद करती है। उपयोगकर्ता को सामग्री ठीक से प्राप्त करने और उन्हें अच्छी तरह से नेविगेट करने में मदद करने के लिए वेब पेज को अच्छी तरह से संरचित किया जाना चाहिए।

HTML कैसे सीखें | How to learn HTML In Hindi

एचटीएमएल सीखने के लिए कुछ आसान चरण हैं, और यदि आप हिंदी में एचटीएमएल सीखना चाहते हैं, तो आप निम्नलिखित तरीकों का पालन कर सकते हैं:

  1. वेबसाइटों और ट्यूटोरियल का उपयोग करें:
  • आप विभिन्न वेबसाइटों और यूट्यूब चैनलों का उपयोग करके एचटीएमएल सीख सकते हैं। W3Schools, Mozilla Developer Network (MDN), GeeksforGeeks, और Codecademy जैसी वेबसाइटों पर HTML के लिए अच्छे ट्यूटोरियल हैं।
  1. ऑनलाइन पाठ्यक्रम:
  • आप यूडेमी, कौरसेरा, ईडीएक्स और प्लूरलसाइट जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर भी एचटीएमएल में ऑनलाइन पाठ्यक्रम ले सकते हैं।
  1. अपना प्रोजेक्ट बनाएं:
  • सीखते समय एक छोटा प्रोजेक्ट बनाने का प्रयास करें। उदाहरण के लिए, एक साधारण वेब पेज बनाएं जिसमें टेक्स्ट, चित्र और हाइपरलिंक हों।
  1. HTML कोड को समझें:
  • एचटीएमएल कोड को समझने के लिए, आपको टैग, विशेषताओं और उनके उपयोग को समझने का प्रयास करना चाहिए। विभिन्न टैगों का उपयोग करने का अभ्यास करें और यह समझने का प्रयास करें कि वे पृष्ठ की संरचना को कैसे परिभाषित करते हैं।
  1. सैंडबॉक्स का उपयोग करें:
  • आप सैंडबॉक्स का उपयोग करके वेब पेज विकास का अभ्यास कर सकते हैं। यह आपको बिना कोड लिखे कोड देखने की अनुमति देता है।
  1. संसाधनों का संदर्भ लें:
  • एचटीएमएल सीखने के लिए ऑनलाइन संसाधनों का संदर्भ लें, जैसे HTML किताबें, वेबसाइट और फ़ोरम।
  1. प्रश्नों के उत्तर खोजें:
  • यदि आपके कोई प्रश्न हैं, तो आप वेब पर सहायता पृष्ठों और वेब फ़ोरम पर उत्तर पा सकते हैं।
  1. प्रतिदिन अभ्यास करें:
  • एचटीएमएल सीखने के लिए नियमित अभ्यास करें। कोड लिखने का अभ्यास करने से आपके कौशल में सुधार होगा।

यदि आप नियमित रूप से अभ्यास करते हैं और उपयोगकर्ता अनुभव प्राप्त करते हैं तो HTML सीखना आसान हो सकता है। यह आपके वेब डेवलपमेंट करियर के लिए एक महत्वपूर्ण और उपयोगी कौशल हो सकता है।

HTML टैग्स के उपयोग कैसे करें : टैग का नाम

एचटीएमएल में टैग के उपयोग को समझते समय, प्रत्येक टैग के नाम और उसकी विशेष विशेषताओं को समझना महत्वपूर्ण है। टैग एक प्रकार के प्रतीक हैं जो ब्राउज़र को सूचित करते हैं कि किसी वेब पेज की सामग्री को कैसे और किस तरीके से प्रस्तुत किया जाए। आइए इस विशेष बिंदु पर टैग के उपयोग को समझाने के लिए “एचटीएमएल टैग का उपयोग कैसे करें” से एक उदाहरण देखें:

टैग का नाम: <p> (पैराग्राफ टैग)

उपयोग:

  • <p> टैग का उपयोग पैराग्राफ (टेक्स्ट पैराग्राफ) बनाने के लिए किया जाता है।
  • इसका उपयोग किसी भी प्रकार के टेक्स्ट या कंटेंट को नए पैराग्राफ में दिखाने के लिए किया जा सकता है।
  • उदाहरण: <p>यह एक पैराग्राफ का उदाहरण है।</p>

समझाने का तरीका:

  • इस उदाहरण में, <p> टैग एक पैराग्राफ का प्रतिनिधित्व करता है।
  • <p> टैग के बाद आपका टेक्स्ट आता है, जो पैराग्राफ शुरू करता है।
  • पैराग्राफ के अंत में </p> टैग आता है, जिससे पैराग्राफ समाप्त होता है।

उपयोग का परिणाम:

  • जब ब्राउज़र पेज लोड करता है, तो <p> टैग के अंदर का टेक्स्ट एक नए पैराग्राफ में प्रदर्शित होता है।
  • अनुच्छेदों के बीच एक अंतराल होता है, जिससे वे अलग-अलग अनुच्छेदों के रूप में प्रकट हो सकते हैं।

इसी प्रकार, एचटीएमएल में विभिन्न टैग का उपयोग किया जा सकता है, और प्रत्येक टैग के नाम और उपयोग को समझकर आप वेब पेज को सुंदर और संरचित बना सकते हैं। जैसे-जैसे आप HTML का अध्ययन करेंगे, आप अधिक टैग के उपयोग को समझेंगे, जो आपको वेब पेज सामग्री को बेहतर तरीके से प्रस्तुत करने की अनुमति देगा।

HTML में स्पेस कैसे जोड़ें | 4 Easy Ways to Insert Spaces in HTML

एचटीएमएल में स्थान (spaces) डालने के चार आसान तरीके हैं, जिन्हें हिंदी में विस्तार से समझाया जा सकता है:

1. <br> टैग का उपयोग (लाइन ब्रेक):

  • <br> टैग का उपयोग एक लाइन ब्रेक डालने के लिए किया जाता है, जिससे टेक्स्ट या तत्वों के बीच एक नई पंक्ति पर जाया जा सकता है।
  • उदाहरण:
  • यह कुछ टेक्स्ट है।<br>
    यह नई पंक्ति पर है।

इसमें <br> टैग एक लाइन ब्रेक डालता है, जिससे दूसरी पंक्ति एक नई पंक्ति पर होती है।

2. <p> टैग का उपयोग (पैराग्राफ):

  • <p>टैग का उपयोग पैराग्राफ बनाने के लिए किया जाता है, जो खुद बढ़ी और कमी की स्थान जोड़ता है।
  • उदाहरण:
  • <p>यह पहला पैराग्राफ है।</p>
    <p>यह दूसरा पैराग्राफ है।</p>
  • <p> टैग पैराग्राफ बनाता है और खुद स्थान जोड़ता है।

3. CSS का उपयोग (कैस्केडिंग स्टाइलशीट्स):

  • CSS (Cascading Style Sheets) का उपयोग स्थान को नियंत्रित करने के लिए किया जा सकता है। आप margin और padding जैसे CSS गुणों का उपयोग करके स्थान जोड़ सकते हैं।
  • उदाहरण:
  • <style>
    p {
    margin-bottom: 20px; /* पैराग्राफ के नीचे स्थान जोड़ने के लिए */
    }
    </style>
  • इसमें CSS के माध्यम से <p> टैग के नीचे 20px का मार्जिन (स्थान) जोड़ा गया है।

4. &nbsp; का उपयोग (नॉन-ब्रेकिंग स्पेस):

  • &nbsp; एक नॉन-ब्रेकिंग स्पेस है जिसका उपयोग अंतरिक्ष डालने के लिए किया जा सकता है, जिससे वर्टिकल या हॉरिज़ॉंटल अंतर किया जा सकता है।
  • उदाहरण:
  • यह &nbsp;&nbsp;&nbsp;कुछ टेक्स्ट है।
  • &nbsp;का उपयोग तीन नॉन-ब्रेकिंग स्पेस डालने के लिए किया गया है, जिससे टेक्स्ट के बायें ओर अंतर बढ़ा है।ये चार आसान तरीके हैं जिन्हें आप एचटीएमएल में स्थान जोड़ने के लिए उपयोग कर सकते हैं। इनका उपयोग करके आप अपने वेब पेज को सुंदर और संरचित बना सकते हैं।

Free में Online HTML कैसे सीखें 

एचटीएमएल को ऑनलाइन फ्री में सीखने के लिए आप निम्नलिखित वेबसाइट पर जा सकते हैं जहां आप आसानी से फ्री में Html कोडिंग सीख सकते हैं।

HTML के फायदे | Benefits of HTML In Hindi

HTML (एचटीएमएल) के फायदे इस प्रकार हैं:

  1. वेब पेजों की तैयारी (Web Page Creation):
  • एचटीएमएल का उपयोग वेब पेज तैयार करने के लिए किया जाता है। यह वेब पेज की संरचना को निर्धारित करने में मदद करता है, जिससे वेब पेज की संरचना सुविधाजनक और इंटरैक्टिव हो जाती है।
  1. हाइपरलिंक का उपयोग:
  • एचटीएमएल आपको हाइपरलिंक बनाने की अनुमति देता है, जो एक पेज से दूसरे पेज पर जाने का एक इंटरैक्टिव तरीका प्रदान करता है।
  1. छवियाँ और वीडियो के लिए समर्थन:
  • एचटीएमएल के माध्यम से आप किसी वेब पेज पर चित्र और वीडियो दिखा सकते हैं, जिससे पेज ग्राफिकल और आकर्षक बन जाता है।
  1. वेब पेजों की संरचना करना:
  • एचटीएमएल वेब पेजों को संरचित करने की अनुमति देता है, जैसे कि शीर्षकों, पैराग्राफों, सूचियों और अन्य तत्वों का उपयोग करके।
  1. खोज इंजन के लिए अनुकूलित (खोज इंजन अनुकूलन – एसईओ):
  • एचटीएमएल का सही ढंग से उपयोग करके आप अपने वेब पेजों को खोज इंजनों के लिए अधिक अनुकूलित बना सकते हैं, जिससे अधिक लोग आपकी साइट ढूंढ सकेंगे।
  1. पोर्टेबिलिटी:
  • एचटीएमएल पोर्टेबिलिटी को ध्यान में रखते हुए वेब पेज बनाने में मदद करता है, यानी यह विभिन्न उपकरणों और ब्राउज़रों पर वेब पेजों को सही ढंग से प्रदर्शित करने में मदद करता है।
  1. शिक्षा और अन्तरक्रियाशीलता:

HTML का उपयोग शिक्षा सेवाओं और इंटरैक्टिव सामग्री को प्रस्तुत करने, विशेषज्ञता और ज्ञान साझा करने में मदद करने के लिए भी किया जाता है।

HTML में टेबल टैग | Table tag in HTML in hindi

एचटीएमएल में <table> टैग एक महत्वपूर्ण टैग है जिसका उपयोग टेबल्स (तालिकाएँ) बनाने के लिए किया जाता है। इसका उपयोग डेटा को संरचित और स्वादु तरीके से प्रदर्शित करने के लिए किया जाता है, और यह वेब पेजों पर जानकारी को सुविधाजनक तरीके से प्रस्तुत करने में मदद करता है।

ये कुछ महत्वपूर्ण आवश्यक बिंदु हैं जिनको आपको <table> टैग के बारे में जानना चाहिए:

  1. <table> टैग: <table>टैग से एक नई टेबल बनाई जाती है। इसका आरंभ और समापन टैग से होता है: <table>(टेबल की शुरुआत) और <table>(टेबल की समापन).
  2. <tr> टैग: <tr>टैग टेबल के पंक्तियों (rows) को दर्शाने के लिए होता है। “tr” का मतलब “टेबल रो” होता है.
  3. <th> टैग: <th> टैग टेबल के हेडर सेल्स को दर्शाने के लिए होता है। हेडर सेल्स आमतौर पर टेबल के पहले पंक्ति में होते हैं और वे बोल्ड या अन्य रूपों में हो सकते हैं।
  4. <td> टैग: <td> टैग टेबल के डेटा सेल्स को दर्शाने के लिए होता है। डेटा सेल्स टेबल के अनुसार विभाजित होते हैं और सामान्य टेक्स्ट या अन्य सामग्री को दर्शाने के लिए होते हैं.
  5. कॉलम्स और रोस: <table>टैग के अंदर <tr>(पंक्ति) और <td> (सेल्स) का इस्तेमाल करके आप टेबल की विभिन्न पंक्तियों और स्तंभों को परिभाषित कर सकते हैं।
  6. टेबल की गुणवत्ता: आप टेबल की गुणवत्ता को समर्थन देने के लिए <table>टैग के अंदर अनेक अद्वितीय एट्रिब्यूट्स जैसे कि border,width,cellspacing, और cellpadding का उपयोग कर सकते हैं.

एक उदाहरण के रूप में, यदि आप एक सादी टेबल बनाना चाहते हैं, तो निम्नलिखित कोड का उपयोग कर सकते हैं:

  • <table border=”1″>
  •   <tr>
  •     <th>सीरील नंबर</th>
  •     <th>नाम</th>
  •     <th>आयु</th>
  •   </tr>
  •   <tr>
  •     <td>1</td>
  •     <td>राजेश</td>
  •     <td>25</td>
  •   </tr>
  •   <tr>
  •     <td>2</td>
  •     <td>सोनिया</td>
  •     <td>30</td>
  •   </tr>
  • </table>

HTML के लिए अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न हिंदी में | FAQ’s

1. HTML क्या है?

  • एचटीएमएल एक मानक चिह्न भाषा है जो वेब पृष्ठों को तैयार करने और प्रस्तुत करने के लिए उपयोग की जाती है। यह वेबसाइट डिज़ाइन के लिए महत्वपूर्ण है।

2. HTML के टैग्स क्या होते हैं?

  • एचटीएमएल में टैग्स वेब पेज के अलग-अलग घटकों को चिह्नित करने के लिए उपयोग होते हैं। उदाहरण के लिए, <p>टैग पैराग्राफ को दर्शाने के लिए है।

3. HTML कैसे काम करता है?

  • एचटीएमएल वेब ब्राउज़र को बताता है कि टेक्स्ट, चित्र, लिंक, और अन्य सामग्री को कैसे प्रस्तुत करना है। वेब ब्राउज़र इस ब्राह्मणिक कोड को पढ़ कर वेब पेज को डिस्प्ले करता है।

4. HTML में कितने प्रकार के टैग्स होते हैं?

  • एचटीएमएल में दो प्रकार के टैग्स होते हैं: ब्लॉक टैग्स और इंलाइन टैग्स। ब्लॉक टैग्स पूरे विभाग को चिह्नित करते हैं, जबकि इंलाइन टैग्स केवल टेक्स्ट के भीतर चिह्नित करते हैं।

5. HTML के सबसे प्रमुख टैग्स कौन-कौन से होते हैं?

  • एचटीएमएल के प्रमुख टैग्स में <html>, <head>, <title>, <body>, <p>, <a>, <img>,<ul>, <li>, और <h1>शामिल होते हैं।

6. HTML की बेसिक संरचना क्या होती है?

  • एचटीएमएल की बेसिक संरचना में <html>,<head> और <body> टैग्स शामिल होते हैं, जो वेब पेज की संरचना को परिभाषित करते हैं।

7. HTML में गुड प्रैक्टिस क्या हैं?

  • एचटीएमएल में गुड प्रैक्टिस में सटीक टैग इस्तेमाल करना, सही इंडेंटेशन और फॉर्मेटिंग जरूरी होता है, ताकि पेज को पढ़ने और समझने में आसानी हो।

8. HTML में कैसे हाइपरलिंक्स बनाएं?

  • हाइपरलिंक्स बनाने के लिए <a> टैग का उपयोग करते हैं, जिसमें href आवश्यक URL को दर्ज किया जाता है।

9. HTML वेब पेज को कैसे प्रकट करता है?

  • एक एचटीएमएल वेब पेज को वेब ब्राउज़र द्वारा प्रकट किया जाता है, जिसके लिए वेब ब्राउज़र आवश्यक ब्राह्मणिक कोड को पढ़कर पेज को रूप देता है।

10. HTML का उपयोग कहां कहां होता है? – एचटीएमएल का उपयोग वेब डेवलपमेंट, वेब डिज़ाइन, ब्लॉगिंग, शिक्षा, और विभिन्न वेबसाइटों के निर्माण में होता है। यह वेब पेजों को तैयार करने के लिए एक महत्वपूर्ण टूल है।

हमने क्या सीखा: HTML क्या है हिंदी में | What Is HTML in Hindi 

इस लेख में, हमने HTML टैग के बारे में मानव-अनुकूल जानकारी प्रदान की है जो आपको HTML सीखने में मदद करेगी। HTML सीखने में समय और अभ्यास दोनों लगते हैं, लेकिन इसे शुरू करना और अपने वेब डिज़ाइन कौशल में सुधार करना आसान हो सकता है। HTML से संबंधित और भी अधिक जानकारी और संसाधन खोजने के लिए विभिन्न वेबसाइटों और ऑनलाइन पाठ्यक्रमों का अन्वेषण करें और अपनी वेबसाइट डिज़ाइन में विशेषज्ञ बनें!

इन्हें भी पढ़े : Blockchain Technology समझिए ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी का महत्व

2 thoughts on “HTML टैग्स का उपयोग कैसे करें: पूरी जानकारी”

Leave a Comment