Firewall in hindi | फ़ायरवॉल क्या है और इसके प्रकार

चलिए दोस्तों आज हम इस पोस्ट में फ़ायरवॉल क्या है? (firewall in hindi) और फ़ायरवॉल कंप्यूटर में कितना जरुरी हैं ये देखेंगे और उसके प्रकार देखेंगे।

फ़ायरवॉल क्या है? | What is Firewall?

फ़ायरवॉल एक बस प्रोग्राम या हार्डवेयर डिवाइस है जो इंटरनेट कनेक्शन के माध्यम से आपके निजी नेटवर्क या कंप्यूटर सिस्टम में आने वाली जानकारी को फ़िल्टर करता है।

फ़ायरवॉल एक तरह का सुरक्षा सॉफ़्टवेयर होता है जो आपके कंप्यूटर या नेटवर्क को ऑनलाइन खतरों से सुरक्षित रखता है। जो आपके डेटा को नियंत्रित करती है ताकि किसी अनधिकृत या हानिकारक गतिविधि के खिलाफ आपकी सुरक्षा बनी रहे। इसका उपयोग निजी या व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है और यह आपको ऑनलाइन हमलों से सुरक्षित रखने में मदद करता है।

फ़ायरवॉल की परिभाषा | Definition of firewall

नेटवर्क फ़ायरवॉल एक सिस्टम या सिस्टम का समूह है जिसका उपयोग दो नेटवर्कों एक trusted network और एक untrusted network के बीच पहुंच को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है – pre-configured नियमों या फ़िल्टर का उपयोग करके।

फ़ायरवॉल वह उपकरण है जो नेटवर्क (internal/external) के बीच सुरक्षित कनेक्टिविटी प्रदान करता है.इसका उपयोग नेटवर्क के बीच संचार के लिए सुरक्षा नीति को लागू करने के लिए किया जाता है।

फ़ायरवॉल एक हार्डवेयर, सॉफ़्टवेयर या दोनों का संयोजन हो सकता है जिसका उपयोग unauthorized program या इंटरनेट उपयोगकर्ताओं को निजी नेटवर्क या single computer तक पहुँचने से रोकने के लिए किया जाता है।

इंट्रानेट में प्रवेश करने या छोड़ने वाले सभी संदेश फ़ायरवॉल से होकर गुजरते हैं, जो प्रत्येक संदेश की जांच करता है और उन संदेशों को ब्लॉक कर देता है जो specified security criteria को पूरा नहीं करते हैं।

फ़ायरवॉल का इतिहास | History of firewall

जब इंटरनेट का प्रयोग बढ़ने लगा, तो इंटरनेट पर सुरक्षा की जरूरत भी बढ़ गई। लोगों के कंप्यूटर और नेटवर्क को ऑनलाइन हमलों (attackers) से सुरक्षित रखने के लिए एक तरह की नई तकनीक की आवश्यकता हुई। इसी तकनीक का नाम है फ़ायरवॉल।

फ़ायरवॉल का प्रारंभिक रूप 1980 के दशक में विकसित हुआ था। यह सोच का एक नया कदम था, जो इंटरनेट उपयोगकर्ताओं को निजी जानकारी को सुरक्षित रखने की अधिक शक्तिशाली तकनीक प्रदान करता था।

इसके बाद, समय के साथ, फ़ायरवॉल की तकनीक में सुधार हुआ और उसकी विशेषताएँ और फ़ंक्शन्स और भी मजबूत हो गया। आज, फ़ायरवॉल एक महत्वपूर्ण सुरक्षा उपकरण है, जो कंप्यूटर और नेटवर्क को अनधिकृत गतिविधियों से सुरक्षित रखने में मदद करता है।

फ़ायरवॉल के प्रकार | Types of firewall

what is firewall
what is firewall

फ़ायरवॉल के अनेक प्रकार होते है. जो आपके डिवाइस और नेटवर्क को विभिन्न तरीकों से सुरक्षित रखने में मदद करते हैं।

सॉफ़्टवेयर फ़ायरवॉल: यह एक सॉफ़्टवेयर होता है जो आपके कंप्यूटर या मोबाइल डिवाइस में इंस्टॉल किया जाता है। यह आपके डिवाइस पर इनकमिंग और आउटगोइंग ट्रैफ़िक को स्कैन करता है और किसी अनधिकृत गतिविधि को रोकता है। यह आमतौर पर वह कंप्यूटर होता है जिसके साथ मॉडेम जुड़ा होता है।

आमतौर पर कम खर्चीला, कॉन्फ़िगर करना बहुत आसान हैं।

उदाहरण – नॉर्टन इंटरनेट सुरक्षा (Norton internet security), MacAfee internet security आदि।

हार्डवेयर फ़ायरवॉल: यह एक फिजिकल उपकरण होता है जो नेटवर्क के बाहर लगाया जाता है, जैसे कि राउटर या स्विच के रूप में। इसे मॉडेम और कंप्यूटर के बीच स्थापित किया जा सकता है. यह नेटवर्क पर आने वाले ट्रैफ़िक को फ़िल्टर करता है और अनधिकृत या हानिकारक संदेशों को ब्लॉक करता है। और संपूर्ण नेटवर्क की सुरक्षा करता है.

आमतौर पर अधिक महंगा, कॉन्फ़िगर करना कठिन हैं।

उदाहरण – सिस्को पिक्स (Cisco pix), नेटस्क्रीन (Netscreen), वॉचफर्ड (Watchfuard) आदि।

और भी अन्य प्रकार के फ़ायरवॉल होते हैं।

Packet Filter Firewall (पैकेट फ़िल्टर फ़ायरवॉल)

यह नेटवर्क में प्रवेश करने या छोड़ने वाले प्रत्येक पैकेट को देखता है और उपयोगकर्ता द्वारा परिभाषित नियमों के आधार पर इसे accept या reject करता है। packet filtering उपयोगकर्ताओं के लिए काफी प्रभावी और पारदर्शी है, लेकिन इसे कॉन्फ़िगर करना मुश्किल है।

Application Level Gateway Firewall (एप्लीकेशन लेवल गेटवे फ़ायरवॉल)

इस प्रकार के फ़ायरवॉल में रिमोट होस्ट या नेटवर्क केवल प्रॉक्सी सर्वर के साथ interact कर सकता है, proxy server आंतरिक नेटवर्क यानी इंट्रानेट के details को छिपाने के लिए जिम्मेदार होता है।

उपयोगकर्ता TCP/IP एप्लिकेशन, जैसे FTP और Telnet servers का उपयोग करते हैं।

Circuit-level gateway firewall (सर्किट लेवल गेटवे फ़ायरवॉल)

यह एक स्टैंड-अलोन सिस्टम हो सकता है या यह कुछ अनुप्रयोगों के लिए एप्लिकेशन-स्तरीय गेटवे द्वारा किया जाने वाला एक विशेष कार्य हो सकता है।

यह एक end to end तक टीसीपी कनेक्शन की अनुमति नहीं देता है. बल्कि, गेटवे दो टीसीपी कनेक्शन सेट करता है।

सर्किट लेवल गेटवे का एक विशिष्ट उपयोग एक ऐसी स्थिति है जिसमें सिस्टम प्रशासक आंतरिक उपयोगकर्ताओं पर भरोसा करता है।

लेकिन Circuit-level फ़ायरवॉल इकाई पैकेट को साफ़ नहीं करते हैं। यह संरक्षित नेटवर्क के बारे में जानकारी छिपाने के लिए उपयोगी है।

Circuit-level गेटवे inexpensive होते हैं और उनके द्वारा संरक्षित निजी नेटवर्क के बारे में जानकारी छिपाने का लाभ होता है। दूसरी ओर, वे अलग-अलग पैकेटों को फ़िल्टर नहीं करते हैं

और भी फ़ायरवॉल होते है। जो बड़े-बड़े offices में काम आते हैं। यह विशेष तरह के फ़ायरवॉल हैं जो किसी संगठन के नेटवर्क को सुरक्षित रखने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं। ये बड़े और कम्पलेक्स नेटवर्क को संरक्षित रखने में मदद करते हैं, जैसे कि कॉर्पोरेट कार्यालयों या बड़ी संस्थाओं के लिए।

वायरलेस फ़ायरवॉल यह विशेष रूप से वायरलेस नेटवर्क के लिए डिज़ाइन किए गए होते हैं। ये आपके वायरलेस रूटर या एक्सेस पॉइंट पर सुरक्षा प्रदान करते हैं और आपके वायरलेस नेटवर्क को सुरक्षित बनाते हैं।

हमें फ़ायरवॉल की आवश्यकता क्यों है?

गोपनीय जानकारी को उन लोगों से सुरक्षित रखना जिन्हें स्पष्ट रूप से उस तक पहुंचने की आवश्यकता नहीं है।

हमारे नेटवर्क और उसके संसाधनों को हमारे नेटवर्क के बाहर उत्पन्न होने वाले दुर्भावनापूर्ण उपयोगकर्ताओं और दुर्घटनाओं से बचाने के लिए।

एक Personal फ़ायरवॉल क्या कर सकता है

  • हैकर्स को अपने कंप्यूटर तक पहुँचने से रोकें।
  • अपनी व्यक्तिगत जानकारी को सुरक्षित रखें.
  • pop-up विज्ञापनों और कुछ कुकीज़ को ब्लॉक करता है।
  • यह निर्धारित करता है कि कौन से प्रोग्राम इंटरनेट तक पहुंच सकते हैं।
  • नेटवर्क की गोपनीयता सुनिश्चित करना – फ़ायरवॉल आपके नेटवर्क की गोपनीयता को सुनिश्चित करता है, जिससे आपके नेटवर्क पर केवल वे लोग पहुंच सकते हैं जिनकी आपने अनुमति दी है।
  • सुरक्षित लॉगिन की गारंटी – कुछ फ़ायरवॉल उपकरण आपको सुरक्षित लॉगिन के लिए एक्स्ट्रा लेयर प्रदान करते हैं जैसे कि डूप्लिकेट यूजर नामों या पासवर्डों को रोकना।

फ़ायरवॉल क्या नहीं कर सकता

  • Malicious Insiders से आपकी रक्षा नहीं कर सकता
  • उन कनेक्शनों से आपकी रक्षा नहीं कर सकता जो इससे नहीं गुजरते
  • पूरी तरह से नए खतरों से रक्षा नहीं कर सकते
  • वायरस से बचाव नहीं कर सकते.

Next Generation Firewalls | अगली पीढ़ी के फ़ायरवॉल

  • आज, नई पीढ़ी के उपयोगकर्ता, एप्लिकेशन और सुरक्षा खतरे एंटरप्राइज वायरलेस नेटवर्क के लिए खतरा पैदा कर रहे हैं।
  • पारंपरिक फ़ायरवॉल पूर्ण अनुप्रयोग दृश्यता और नियंत्रण प्रदान करने के लिए पर्याप्त मजबूत नहीं हैं।
  • अगली पीढ़ी के फ़ायरवॉल संगठनों को नेटवर्क पारदर्शिता हासिल करने, कमजोरियों को कम करने और नेटवर्क प्रदर्शन को संरक्षित करने की अनुमति देते हैं।

फ़ायरवॉल का एक नया वर्ग, अगली पीढ़ी का फ़ायरवॉल-NGFW, विशिष्ट पोर्ट का उपयोग करके एप्लिकेशन या ट्रैफ़िक प्रकार के आधार पर नेटवर्क और इंटरनेट ट्रैफ़िक को फ़िल्टर करता है।

अगली पीढ़ी के फ़ायरवॉल (NGFWs) बेहतर और गहन निरीक्षण प्रदान करने के लिए मानक फ़ायरवॉल की विशेषताओं को सेवा की गुणवत्ता (QoS) कार्यक्षमता के साथ मिश्रित करते हैं।

कुछ महत्वपूर्ण विशेषताएं निचे दिए गए है।

  1. डीप पैकेट इंस्पेक्शन (DPI): NGFW डेटा पैकेट की गहराई में जाकर तकनीकी रूप से जांच करते हैं, जिससे उन्हें संदेशों के अंतर्गत मौजूद गतिविधियों को भी पहचान सकते हैं।
  2. आवश्यकता अनुसार नियंत्रण: NGFW आधारित नियमों को आपकी नेटवर्क और डेटा की आवश्यकताओं के अनुसार समायोजित किया जा सकता है, जिससे सुरक्षा का स्तर और प्रदर्शन बेहतर होता है।
  3. इंटेलिजेंट ट्रैफ़िक नियंत्रण: NGFW नेटवर्क ट्रैफ़िक को ध्यान से मॉनिटर करते हैं और असामान्य गतिविधियों को तुरंत पहचानकर उन्हें ब्लॉक करने में सक्षम होते हैं।
  4. एडवांस थ्रेट प्रोटेक्शन (ATP): NGFW एडवांस थ्रेट डिटेक्शन और प्रोटेक्शन फीचर्स के साथ आते हैं, जो नवीनतम और उन्नत हमलों के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करते हैं।
  5. सेंट्रलाइज़्ड मैनेजमेंट: NGFW के लिए सेंट्रलाइज़्ड कंट्रोल पैनल उपलब्ध होता है जो नेटवर्क के सभी डिवाइसों को एक ही स्थान से प्रबंधित करने में मदद करता है।

Popular firewall softwares | लोकप्रिय फ़ायरवॉल सॉफ़्टवेयर

  1. Comodo internet security (कोमोडो इंटरनेट सुरक्षा)
  2. PC Tools Firewall Plus (पीसी टूल्स फ़ायरवॉल प्लस)
  3. ZoneAlarm Free Firewall (ज़ोनअलार्म फ्री फ़ायरवॉल)
  4. Ashampoo Firewall (अशम्पू फ़ायरवॉल)
  5. Online Armor (ऑनलाइन कवच)
  6. Outpost Firewall (आउटपोस्ट फ़ायरवॉल)
  7. Filseclab Personal Firewall (फिल्सक्लैब पर्सनल फ़ायरवॉल)

फ़ायरवॉल के लाभ | Advantages of Firewall in Hindi

फ़ायरवॉल के कुछ महत्वपूर्ण फायदे निचे दिए गए हैं –

  1. ऑनलाइन सुरक्षा (Online Security): फ़ायरवॉल आपके कंप्यूटर और नेटवर्क को अनधिकृत गतिविधियों से सुरक्षित रखता है, जो आपकी ऑनलाइन सुरक्षा को मजबूत करता है।
  2. डेटा की गोपनीयता सुरक्षित रखना: यह फ़ायरवॉल आपके डेटा को अनधिकृत पहुंच से बचाकर आपकी गोपनीयता को सुरक्षित रखता है।
  3. मालवेयर और जासूसी सॉफ़्टवेयर को ब्लॉक करना: फ़ायरवॉल वायरस, मालवेयर, और अन्य खतरनाक सॉफ़्टवेयर को ब्लॉक करके आपके डिवाइस को सुरक्षित रखता है।
  4. अनधिकृत गतिविधियों का नियंत्रण: फ़ायरवॉल आपके नेटवर्क में आने वाली अनधिकृत गतिविधियों को रोककर आपके नेटवर्क को सुरक्षित रखता है।
  5. अत्यधिक बाधाओं से बचाव: यह आपके नेटवर्क को डीडीओएस (डेनायल ऑफ सर्विस) अटैक और अन्य अत्यधिक बाधाओं से बचाता है।

फ़ायरवॉल के नुकसान | Disadvantages of Firewall in Hindi

फ़ायरवॉल के कुछ नुकसान भी होते हैं, जो निचे दिए गए हैं –

  1. स्थिरता का खोना: कभी-कभी फ़ायरवॉल अत्यधिक सख्त हो जाता है और इसके कारण कुछ वेबसाइट्स या एप्लिकेशन्स का उपयोग करने में समस्या हो सकती है।
  2. लाग का समस्या: कई बार फ़ायरवॉल की लग निकाल से नेटवर्क की स्पीड पर असर पड़ता है, जिससे इंटरनेट कनेक्शन में देरी हो सकती है।
  3. गलत पॉज़िटिव्स: कभी-कभी फ़ायरवॉल अनधिकृत गतिविधियों को भी ब्लॉक कर देता है, जो वास्तव में सुरक्षित हो सकती हैं, लेकिन फ़ायरवॉल के द्वारा उन्हें समझा नहीं जा पाता।
  4. बढ़ती लागत: उच्च स्तर के फ़ायरवॉल की लागत महंगी हो सकती है, जिससे इसका उपयोग करने की व्यक्तिगत और छोटे स्तर के उपयोगकर्ताओं के लिए कठिनाई हो सकती है।
  5. निर्देशित समस्याएं: कई बार फ़ायरवॉल को ठीक से सेटअप करने में समस्याएं हो सकती हैं, जिससे इसकी अधिकतम सुरक्षा प्रदान नहीं की जा सकती है।

Popular firewall softwares compinies names

ये कुछ प्रसिद्ध फ़ायरवॉल सॉफ़्टवेयर कंपनियाँ हैं जो आपको अपने नेटवर्क की सुरक्षा में मदद करती हैं:

  1. सिस्को: सिस्को कंपनी के पास Cisco ASA (Adaptive Security Appliance) और Cisco Firepower जैसे सुरक्षा समाधान हैं, जो उनके ग्राहकों को व्यापारिक स्तर पर सुरक्षित रखने में मदद करते हैं।
  2. पालो आल्टो नेटवर्क्स: Palo Alto Networks अगली पीढ़ी के फ़ायरवॉल समाधानों के लिए जाना जाता है, जैसे कि Palo Alto Networks PA-Series फ़ायरवॉल, जो नेटवर्कों को बेहतर सुरक्षित करने में मदद करते हैं।
  3. फोर्टिनेट: Fortinet कंपनी के द्वारा उपलब्ध फोर्टिगेट फ़ायरवॉल उत्पाद बहुत ही प्रसिद्ध हैं, जो एंटरप्राइज नेटवर्कों को अधिक सुरक्षित बनाने में मदद करते हैं।
  4. चेक पॉइंट सॉफ़्टवेयर टेक्नोलॉजीज: Check Point Next Generation Firewall उत्पाद के लिए चेक पॉइंट कंपनी प्रसिद्ध है, जो उन्नत हमलों से बचाव और सुरक्षा प्रदान करते हैं।
  5. जूनिपर नेटवर्क्स: Juniper Networks नेटवर्क सुरक्षा के लिए SRX Series Services Gateways जैसे उत्पाद प्रदान करता है, जो उनके ग्राहकों को उच्च स्तर की सुरक्षा प्रदान करते हैं।
  6. सोनिकवॉल: SonicWall कंपनी छोटे और मध्यम आकार के उद्यमों के लिए उत्कृष्ट फ़ायरवॉल उपकरणों के लिए प्रसिद्ध है।
  7. सोफोस: Sophos XG Firewall और Sophos UTM (Unified Threat Management) जैसे उत्पाद उनके ग्राहकों को सरलता और प्रभावकारिता प्रदान करते हैं।
  8. वॉचगार्ड टेक्नोलॉजीज: WatchGuard Firebox उपकरणों के लिए वॉचगार्ड टेक्नोलॉजीज प्रसिद्ध है, जो व्यवसायिक नेटवर्कों को सुरक्षा सुविधाओं से लाभान्वित करते हैं।

FAQ’s (frequently asked questions)

फ़ायरवॉल क्या होता है?

फ़ायरवॉल एक सुरक्षा उपकरण है जो आपके कंप्यूटर या नेटवर्क को ऑनलाइन खतरों से बचाता है।

फ़ायरवॉल कैसे काम करता है?

फ़ायरवॉल नेटवर्क के ट्रैफ़िक को निगरानी करता है और खतरनाक गतिविधियों को रोकता है ताकि आपका नेटवर्क सुरक्षित रहे।

क्या फ़ायरवॉल वायरस को हटा सकता है?

फ़ायरवॉल वायरस को हटाने में मदद नहीं करता, लेकिन यह आपके सिस्टम को वायरस से बचाने में मदद करता है।

नेटवर्क फ़ायरवॉल और परिस्थितिगत फ़ायरवॉल में क्या अंतर है?

नेटवर्क फ़ायरवॉल नेटवर्क की सुरक्षा के लिए होता है, जबकि परिस्थितिगत फ़ायरवॉल एक इंडिविज़ुअल कंप्यूटर की सुरक्षा के लिए होता है।

NGFW क्या है और क्या उसका उपयोग है?

NGFW या Next Generation Firewalls एक उन्नत सुरक्षा तकनीक है जो एक्सट्रा सुरक्षा फीचर्स के साथ आता है, जैसे कि डीप पैकेट इंस्पेक्शन और एडवांस थ्रेट प्रोटेक्शन।

आपने क्या सीखा | Summary

मुझे आशा है कि मैंने आप लोगों को firewall in hindi (Firewall hindi) इसके बारे में पूरी जानकारी दी और मुझे आशा है कि आप लोगों को  Firewall in computer hindi इसके बारे में समझ आ गया होगा। यदि आपके मन में इस आर्टिकल को लेकर कोई भी संदेह है या आप चाहते हैं कि इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए तो इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं।

आपके ये विचार हमें कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मौका देंगे। अगर आपको मेरी यह पोस्ट Firewall in hindi में पसंद आई या आपने इससे कुछ सीखा है तो कृपया अपनी खुशी और जिज्ञासा दिखाने के लिए इस पोस्ट को सोशल नेटवर्क जैसे फेसबुक, ट्विटर आदि पर शेयर करें।

इसे भी पढ़े : Quantum computing

1 thought on “Firewall in hindi | फ़ायरवॉल क्या है और इसके प्रकार”

  1. Pingback: Java - SmartPC

Leave a Comment